Skip to content

Cashback कंपनी कैसे पैसा कमाती है

  • Oliver 
Cashback कंपनी कैसे पैसा कमाती है

दोस्तों जब हम अपनी डेली लाइफ में ऑनलाइन शॉपिंग करते हैं या कुछ चीज खरीदते हैं तो वहां हमें कई तरह के Cashback ऑफर मिलते रहते हैं और हम उसका इस्तेमाल करते हैं और उसके हमें बहुत सारे फायदे मिलते हैं लेकिन आपने कभी सोचा है कि यह कंपनी अगर हमें कैशबैक दे रही है तो यह पैसा कैसे कमा रही है 

Cashback क्या होता है

अगर आप कोई ऑनलाइन सामान खरीद रहे हो तो वहां आपके पास कई तरह के ऑप्शन चाहते हैं जैसे आप पेमेंट करने के लिए किसी क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करेंगे तो आपको पांच से 10 परसेंट का कैशबैक मिलेगा अगर आप ऐसे किसी एप्लीकेशन  से ऑर्डर करेंगे तो आपको 10 परसेंट का कैशबैक मिल सकता है

जैसे आप कोई  ₹100 का सामान खरीदते हैं तो ₹10 आपके कैशबैक के रूप में आपके वापस हो जाते हैं मतलब वह सामान सिर्फ आपको ₹90 का ही पड़ा तो चलिए जानते हैं कैसे  डिस्काउंट से बिल्कुल अलग है और वह कौन सी चीज है जो डिस्काउंट से कैशबैक को अलग बनाता है

डिस्काउंट से ज्यादा अच्छा कैशबैक होता है और ज्यादातर कंपनियां कैशबैक को ही अपना आती है क्योंकि डिस्काउंट में होता है कि आप उस सामान का मूल्य कम कर देते हैं ग्राहक को लुभाने के लिए कोई भी कंपनी अपने सामान का मूल्य कम नहीं करना चाहेगा अगर आपको कोई सामान ₹100 का ₹90 में मिल गया तो वही समान कोई दूसरा नहीं लेना चाहेगा

Also Read – Insider Trading क्या होती है

Also Read – Index Funds क्या होता है

Cashback कंपनी कैसे पैसा कमाती है
Cashback कंपनी कैसे पैसा कमाती है

इसमें उस वस्तु की बाजार में कीमत खराब हो जाती है लेकिन कैशबैक में उसका मूल्य ₹100 ही रहता है और उसकी वैल्यू कम नहीं होती वही कैशबैक में कंपनियों को ज्यादा प्रॉफिट होता है डिस्काउंट के नजरिए से  कैशबैक के जरिए से कंपनी आपको और ज्यादा फोर्स करती है सामान खरीदने के लिए  जैसे आप कोई फिल्म देखना चाहते हो जिसकी टिकट 150 रुपए है और जैसे ही आप टिकट खरीदने जाते हो तो वहां आपको  कैशबैक दिखता है 

कि आप ₹300 की दो टिकट लेंगे तो आपको 50% का कैशबैक मिलेगा अब यहां आपको सीधा दिख रहा है डेढ़ सौ रुपए का सीधा फायदा अब आप दूसरे दोस्तों को भी बोलोगे फिल्म देखने के लिए ताकि आप दो टिकट ले सके यहां जो आपको 150  रुपए का कैशबैक मिलता है वह आपके वॉलेट में चला जाता है उसे भी आप खर्च कर सकते हैं

अब आपको यहां ऐसा लगता है कि एक टिकट के प्राइस में ही दो लोगों ने फिल्म देख ली कैशबैक ऑफर देने का मतलब यह होता है कि उस सर्विस या प्रोडक्ट का ज्यादा से ज्यादा लोग इस्तेमाल कर सके और लोगों के बीच हुआ प्रोडक्ट पॉपुलर हो सके जैसे क्रेडिट कार्ड कंपनियां ऑफर देती है कि आप हमारे क्रेडिट कार्ड से पेमेंट करते हैं तो आपको 10 परसेंट का कैशबैक मिलेगा

इसमें कंपनी का यह फायदा रहता है कि लोग उनका क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करना चालू कर देते हैं और नए नए कस्टमर से जुड़ते चलेंगे और जो क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल नहीं कर रहा है वह इस ऑफर को देखकर क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करना चालू कर देता है 

Affiliate Marketing 

बड़ी-बड़ी कंपनियां अपना एफिलिएट मार्केटिंग का प्रोग्राम चलाती है जैसे फ्लिपकार्ट अमेजॉन ताकि प्रोडक्ट की जानकारी सभी तक पहुंच सके और ज्यादा से ज्यादा कस्टमर इस प्रोडक्ट को खरीद सके अगर आपको एफिलिएट मार्केटिंग करनी है तो आप किसी भी प्रोडक्ट के एफिलिएट प्रोग्राम को ज्वाइन करेंगे तो आप वहां से प्रोडक्ट को सिलेक्ट करके उसका लिंक बना सकते हैं जिसे एफिलिएट लिंक कहा जाता है

अगर आप उस प्रोडक्ट को अपने सोशल मीडिया अकाउंट या अन्य जगह पर शेयर करते हैं तो आपको कुछ परसेंट का कमीशन प्राप्त होता है कैशबैक कंपनियां भी बिल्कुल ऐसे ही काम करती है लेकिन उनके प्रोडक्ट में अलग-अलग प्रकार के कैशबैक ऑफर होते हैं 

Leave a Reply

Your email address will not be published.