Stock Split क्या होता है

दोस्तों नमस्कार स्वागत है आप सभी का एक और नई पोस्ट में जिसमें हम आज एक बहुत ही अच्छी जानकारी साझा करने वाले हैं जिसमें हम जानेंगे कि Stock Split क्या होता है और इसको अच्छे से समझेंगे कि यह कैसे किया जाता है 

Stock Split क्या होता है

दोस्तों शेयर मार्केट में Stock Split एक बहुत ही नॉर्मल बात है Stock Split एक प्रोसेस होता है एक शेयर को बहुत सारे शेयर में बांटने का बहुत सी कंपनियां Stock Split  करती है अपनी कंपनी के शेयर को बढ़ाने के लिए जैसे कि हम इसे एक उदाहरण से समझते हैं

मान लीजिए आप किसी कंपनी के शेयर को होल्ड करते हैं और कंपनी डिसाइड करती है कि एक शेयर को वह 2 शेयरों में बांट देगी इसका मतलब है कि आपके पास जो भी शेयर है वह 2 शेयरों में कन्वर्ट हो जाएगा अगर कंपनी के पास Stock Split के पहले 1 लाख शेयर थे तो अब शेयर की संख्या 2 लाख हो जाएगी 

लेकिन जो उनका मार्केट कैपिटलआईजेशन है वह बिल्कुल ही सेम रहेगी इसका मतलब है कि पहले आप किसी कंपनी का 1 शेयर को रखते थे अब वह दो शेयर का सेम प्राइस होगा यानी कि स्टाफ की ओवरऑल वैल्यू में कोई भी बदलाव नहीं होगा

Also Read – NPS क्या है और इसके फायदे क्या है

Also Read – NSE और BSE में क्या अंतर है

बस उसकी संख्या में वृद्धि कर दी जाएगी कॉपर शेयर के प्राइस को कम कर दिया जाएगा Stock Split के फार्मूले को भी हम अच्छे से समझेंगे

Stock Split क्या होता है
Stock Split क्या होता है

Stock Split क्यों किया जाता है 

  1. Increase Liquidity – यह शेयर Split  का मुख्य कारण है बहुत सी बार यहां होता है की कंपनी का शेयर प्राइस जो उसमें निवेश करना चाहते हैं उनसे बहुत अधिक होता है अगर शेयर का प्राइस और ज्यादा बढ़ता है तो यह इन्वेस्टर्स को कम कर सकता है शेयर को खरीदने के लिए इसीलिए शेयर के प्राइस को कम करके उसे सभी खरीद सके उस लायक बनाया जाता है 
  2. Increase Stockholder Base – Stock Split मैं कंपनी के आउटस्टैंडिंग शेयर्स बढ़ते हैं और यह बहुत सारे इन्वेस्टर्स को बुलावा देते हैं अपने शेयर को खरीदने के लिए इससे कंपनी का स्टॉक शेयर बेस बढ़ता है 
  3. Image of  Future Growth – जो कंपनियां Stock Split का निर्णय लेती है उन्हें एक बढ़ते हुए बिजनेस के तौर पर देखा जाता है तो निवेश करने वालों के मन में यह बात होती है कि जब कंपनी अपने शेयर को Split करती है क्योंकि उनके पास ग्रोथ की अच्छी प्लानिंग है तो एक तरफ से यह कंपनी के लिए मार्केट में एक अच्छी ग्रोथ तैयार करता है 

Stock Split फार्मूला 

कंपनी के Stock Split होने के बाद आप कितने शेयर को होल्ड करोगे इसको एक फार्मूले के तरीके से समझा जा सकता है जैसे कि आप किसी कंपनी के 200 शेयर को होल्ड करते हो और कंपनी का जो Stock Split है 2 : 1 यानी एक शेयर के बदले कंपनी आपको 2 शेयर दे रही है यानी अब आपके 200 से हर 400 शेयर में बदल गए हैं

यह जानने के लिए कि Stock Split होने के बाद शेयर का नया भाव क्या होगा तो हम इस फार्मूले का इस्तेमाल करेंगे नया शेयर प्राइस / Stock Split 2 :1 यानी शेयर का भाव हो जाएगा ₹200 पर शेयर इसमें हमने जाना कि स्टॉक स्प्लिट फार्मूला क्या होता है 

Stock Split Reverse क्या होता है 

जैसे Stock Split मैं शेयर का प्राइस बनाया जाता है वैसे ही Stock Split Reverse एक क्रिया होती है जिसमें कंपनी जिसमें अपने कंपनी शेयर के भाव को कम करती है और कंपनी का शेयर प्राइस भी उसी तरीके से बढ़ जाता है इसमें भी कंपनी के मार्केट केपीटलाइजेशन में कोई भी कमी नहीं आता

2 thoughts on “Stock Split क्या होता है”

Leave a Comment